महिलाओं में अक्सर इंटीमेट एरिया की साफ-सफाई से जुड़े काफी सारे भ्रम देखने को मिलते हैं। जिससे निपटने के लिए जरूरी है कि उन्हें कुछ खास चीजों की जानकारी हो। इंटीमेट एरिया की साफ-सफाई बेहद जरूरी है। नहीं तो ये काफी सारी बीमारियों की वजह बन सकती है। लेकिन सफाई के दौरान भी महिलाएं कई गलतियां करती हैं। चलिए जानें वजाइना और उसके आसपास की त्वचा, प्यूबिक हेयर को हटाने से जुड़ी किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है।

साबुन से सफाई
वजाइन और आसपास के हिस्से को साफ करने के लिए साबुन का इस्तेमाल बिल्कुल भी ना करें। इससे त्वचा पर बुरा असर पड़ता है क्योंकि साबुन का पीएच लेवल काफी अलग होता है। वजाइना को साफ करने के लिए हमेशा माइल्ड या फिर खासतौर इंटीमेट एरिया की क्लीनिंग के लिए बनाए गए प्रोडक्ट का ही इस्तेमाल करें।

सेक्स के बाद सफाई है जरूरी
पार्टनर के साथ इंटीमेट होने के बाद जेंटल सोप से सफाई बेहद जरूरी है। नहीं तो बैक्टीरिया पनपने का डर रहता है। हालांकि किसी भी तरह की आंतरिक सफाई नहीं करनी चाहिए नहीं तो केमिकल वजाइना को नुकसान पहुंचा सकते हैं।  

अंडरवियर हो सही
हमेशा कॉटन की अंडरवियर को ही इस्तेमाल करें। साथ ही ध्यान रखें कि ये अंडरवियर बहुत टाइट न हो। नहीं तो स्किन में इरिटेशन और जलन, फंगस जैसी समस्या होने लगती है। गंदे और पसीना ना सोखने वाले अंडरवियर पहनने का असर फौरन नहीं दिखता है लेकिन लंबे समय में ये असर दिखाती है।

महकने वाले प्रोडक्ट ना इस्तेमाल करें
वजाइना की स्मेल को हटाने के लिए कई बार महिलाएं महकने वाली क्रीम,साबुन या डियो वगैरह का इस्तेमाल करती हैं। लेकिन इन प्रोडक्ट की वजह से लंबे समय में इंफेक्शन जैसी समस्या का खतरा हो सकता है।

प्यूबिक हेयर की सफाई
प्यूबिक हेयर काफी हद तक इंफेक्शन से बचाने में मदद करते हैं और इसकी सफाई बेहद निजी फैसला होना चाहिए। हालांकि प्यूबिक हेयर को साफ करते समय शेविंग रेजर या वैक्स में से किसी एक को चुनना चाहिए। अगर रेजर यूज कर रही हैं तो इसे डिसइंफेक्ट करके ही इस्तेमाल करें। और बार-बार एक ही ब्लेड को इस्तेमाल ना करें।  

गर्म पानी का इस्तेमाल
वजाइना की क्लीनिंग के लिए बहुत ज्यादा गर्म पानी ना यूज करें। इससे स्किन ड्राई हो जाती है और खुजली की समस्या पैदा हो सकती है। हमेशा हल्का गुनगुना पानी ही यूज करें।

पीरियड्स के समय विशेष सफाई
पीरियड्स के वक्त पैंटी, पैड्स, टैंपून, मैंस्ट्रुअल कप इन सारी चीजों की सफाई का ध्यान रखें। ध्यान रहे कि अनहाइजीन का भले ही फौरन असर ना दिखता हो लेकिन लंबे समय में ये प्राइवेट पार्ट्स की सेहत को नुकसान पहुंचाता है। जिसकी वजह से इंफेक्शन और बीमारियां होने का डर रहता है।  

 

Source : Agency