भोपाल

नवरत्न कंपनी में शुमार भारत हेवी इलेक्तिट्रकल लिमिटेड (भेल) के बरखेड़ा पठानी स्थित सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट से प्रतिदिन 1.5 से 2 एमएलडी (मिलियन लीटर डेली) सीवेज का निष्तारण किया जा रहा है। जबकि इस प्लांट की पूरी क्षमता 4.5 एमएलडी की है। यानि यहां से प्रतिदिन 45 लाख लीटर सीवेज का निष्तारण किया जा सकता है। लेकिन पिछले कुछ सालों में भेल टाउनशिप की आबादी कम होने के कारण इस प्लांट तक क्षमता का एक तिहाई सीवेज ही पहुंच रहा है। लेकिन यदि नगर निगम इस एसटीपी तक 3 एमएलडी की सीवेज लाइन जोड़ दे, तो प्रतिदिन 30 लाख लीटर सीवेज का निष्तारण हो सकता है।

निगम को बनानी होगी सीवेज लाइन
वर्तमान में निगम अमृत योजना के तहत पूरे शहर में सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट और नई सीवेज लाइन डालने के काम कर रहा है। ऐसे में निगम साकेत नगर, शिक्त नगर और एम्स की ओर से सीवेज लाइन डालकर 2.5 से 3 एमएलडी सीवेज का निष्तारण करवा सकता है। इससे कृषि की सिंचाई के लिए मिलने वाले पानी की मात्रा भी बढ़ेगी।

Source : Agency