नई दिल्ली
कांग्रेस में अध्यक्ष पद  की दावेदारी के लिए जहां पहले केवल राहुल गांधी का ही नाम सुझाया जा रहा था वहीं अब एक-एक करके कई नाम सामने आने लगे हैं। सूत्रों के मुताबिक वरिष्ठ नेता मनीष तिवारी और कमलनाथ भी अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने की तैयारी बना रहे हैं। मनीष तिवारी उन जी -23 के नेताओं में शुमार हैं जिन्होंने सोनिया गांधी को पत्र लिखा था। वहीं कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने के बाद मल्लिकार्जुन खड़गे के नाम की चर्चा होने लगी है।

अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने के लिए सबसे पहला नाम शशि थरूर का सामने आया था। उन्होंने इस मामले में सोनिया गांधी से मुलाकात की। सोनिया गांधी ने स्पष्ट किया कि कोई भी पार्टी का आधिकारिक उम्मीदवार नहीं होगा। जो चाहे चुनाव लड़ सकता है। इसके बाद अशोक गहलोत ने भी सोनिया गांधी से मुलाकात की। गांधी ने यह बात उनसे भी दोहराई। माना जा  रहा है कि अशोक गहलोत अध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस की पहली पसंद हैं लेकिन वह राजस्थान की कुर्सी भी छोड़ना नहीं चाहते हैं।

कमलनाथ की भी कर्मभूमि मध्य प्रदेश है और दिग्विजय सिंह भी मध्य प्रदेश से आते हैं। दिग्विजय सिंह ने भी चुनाव लड़ने के संकेत दिए हैं। उन्होंने एक न्यूज चैनल से बातचीत के दौरान कहा था कि आखिर उनका नाम क्यों खारिज किया जा रहा है। अब बात करें संभावित उम्मीदवारों की तो इनकी संख्या सात हो गई है। वहीं राहुल गांधी को लेकर सस्पेंस अब भी बरकरार है। अशोक गहलोत ने कहा था कि पार्टी की पहली पसंद राहुल गांधी हैं और वे उन्हें मनाने की कोशिश करेंगे।

कांग्रेस पार्टी ने गुरुवार को चुनाव के लिए पूरा शेड्यूल जारी कर दिया है। 22 साल में पहली बार इस ढंग से पार्टी में चुनाव होने जा रहे हैं। अशोक गहलोत भी भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी से मिलने कोच्चि जाने वाले हैं। उन्होंने कहा कि वह राहुल गांधी को मनाने की कोशिश करेंगे। इतने सारे नामों की चर्चा के बीच सभी की नजरें राहुल गांधी और गहलोत पर टिकी हुई हैं।

 

Source : Agency