भोपाल
ओरछा के जहांगीर महल, दरोगा की कोठी और दीवान महिल सहित प्रदेश के पांच समूहों के 29 स्मारकों और संग्रहालयों में प्रवेश करने अब पर्यटकों को अपनी जेब ज्यादा ढीली करनी पड़ेंगी। राज्य सरक ार ने इनमें प्रवेश के लिए देशी-विदेशी पर्यटकों के शुल्क बढ़ा दिए है। भारतीय दर्शकों को अब इन स्मारकों में प्रवेश करने के लिए पचास रुपए प्रति स्मारक शुल्क देना होगा।

वहीं विदेशी पर्यटकों को साढ़े सात सौ रुपए देने होंगे। स्मारकों में खुद का कैमरा लेकर जाने वाले पर्यटकों को कैमरे के लिए चार सौ रुपए अतिरिक्त शुल्क भी देना होगा। वहीं इन स्मारकों की व्यावसायिक फोटोग्राफी या वीडियोग्राफी करने के लिए आठ सौ रुपए अतिरिक्त खर्च करना होगा।

इन स्मारकों में बढ़ा प्रवेश शुल्क
ओरछा जिला निवाड़ी स्थित जहांगीर महल समूह में ऊंट खाना , रायप्रवीण महल, हमाम खाना, तीन दासी शिव मंदिर, वनवासी मंदिर, राधिका बिहारी मंदिर, सिद्धबाबा, यज्ञशाला, पंचमुखी महादेव मंदिर, हाथी खाना, राजा महल समूह में तोपखाना, बारुद खाना,  हम्माहमीर की कोठी, प्राचीन मंदिर, तामीरात की कोठी, वक्क्षराय की कोठी, दरोगा की कोठी, पुरुषोत्तम दास की कोठी, श्यामदाऊ एवं रसाल दाऊ  की कोठी, चतुर्भुज मंदिर समूह में सीतामढ़ी मंदिर, राधिका रमण मंदिर, दीवान का महल, लक्ष्मी मंदिर एवं सुंदर शाह महल, छत्री समूह में बेतवा नदी किनारे स्थित छत्री समूह के लिए अलग-अलग शुल्क को एकजाई करते हुए यह शुल्क तय किया है।

Source : Agency