खरगोन।
 
मध्य प्रदेश के खरगोन जिले के बड़वाह में घर पर तिरंगा फहराने के दौरान एक हादसा हो गया। इस हादसे में एक युवक की मौत हो गई। दरअसल आजादी के अमृत महोत्सव के चलते बड़वाह में एक दुकान पर मजदूरी करने वाला युवक अपनी दुकान की छत पर तिरंगा लगा रहा था। तिरंगा लोहे के पाइप में लगा हुआ था, जो घर के पास से गुजर रही 11 केवी की विद्युत लाइन से टकरा गया। लोहे का पाइप बिजली के तारों पर लगने से युवक को करंट का झटका लगा और उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

खरगोन जिले के बड़वाह में हर घर तिरंगा अभियान में लापरवाही एक युवक पर भारी पड़ गई। बावड़ी खेड़ा निवासी 45 वर्षीय मोहन बाबू पटेल नर्मदा रोड़ पर अशोक खंडेलवाल की किराना दुकान की दूसरी मंजिल की छत पर झंडा लगाने के लिए ऊपर चढ़ा, इस दौरान उसकी करंट लगने से मौत हो गई। बताया जा रहा है कि मृतक युवक मोहन अशोक खंडेलवाल की दुकान पर ही काम करता था। वह आजादी के अमृत महोत्सव के तहत घर की छत पर तिरंगा लगा रहा था। जहां वह तिरंगा लगा रहा था वहीं कुछ दूरी पर से गुजर रहे विद्युत तारों से तिरंगे में लगा लोहे का डंडा टकरा गया। जिसके चलते युवक को करंट लग गया और उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। घटना की जानकारी लगते ही आसपास लोगों की भीड़ जमा हो गई।

इंदौर में पढ़ाई करते हैं मृतक के बच्चे
सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंची। शव का पंचनामा बनाकर उसे पीएम के लिए बड़वाह के शासकीय अस्पताल भेजा गया। ग्रामीणों ने बताया की मोहन 15 सालों से अधिक समय से अशोक खंडेलवाल की किराना दुकान पर काम कर रहा था। मृतक युवक के एक लड़का और एक लड़की है। जो वर्तमान में इंदौर में रहकर पढ़ाई कर रहे हैं।

 

Source : Agency