बच्‍चे बहुत प्‍यारे और कीमती होते हैं। उनकी प्‍यारी-सी मुस्‍कान से ही मां-बाप की दुनिया में खुशी होती है। वैसे तो बच्‍चे बहुत मासूम और नासमझ होते हैं लेकिन कभी-कभी उन्‍हें हैंडल करना या उनके साथ डील करना मुश्किल हो सकता है।

हर बच्‍चा अलग और अपने आप में यूनीक होता है। सभी बच्‍चे सहयोगी या शांत स्‍वभाव के नहीं होते हैं और आपको बता दें कि राशि का हमारे स्‍वभाव पर बहुत असर पड़ता है। कुछ राशि वाले बच्‍चों की परवरिश में पेरेंट्स को बहुत परेशानी होती है। हम आपको उन राशियों के बारे में ही बता रहे हैं, जिनसे संबंधित बच्‍चों की परवरिश करना बेहद मुश्किल और कठिन होता है।

​मेष राशि
मेष राशि वाले बच्‍चे बहुत ज्‍यादा महत्‍वाकांक्षी, समर्पित लेकिन अपने विचारों को लेकर जिद्दी होते हैं। यही वजह है कि इन बच्‍चों के साथ डील करना मुश्किल हो जाता है। ये बस खुद पर भरोसा करते हैं और दूसरों की सलाह को नजरअंदाज करते हुए अपने फैसले लेते हैं। बहस और लड़ाई करने में भी इन्‍हें बहुत मजा आता है। हालांकि, इनमें धैर्य की बहुत ज्‍यादा कमी होती है इसलिए इन्‍हें हैंडल करना आसान नहीं होता है।

​वृषभ राशि
वृषभ राशि वाले बच्‍चे बहुत ज्‍यादा जिद्दी होते हैं। इन्‍हें बस अपने कंफर्ट जोन में ही रहना पसंद होता है और इसे बनाए रखने के लिए ये कुछ भी कर सकते हैं। अगर आप चाहते हैं कि ये अपनी दुनिया से बाहर निकलकर दूसरों के साथ घुलें-मिलें, तो इसके लिए आपको काफी मशक्‍कत करनी पड़ सकती है। इस र‍ाशि के बच्‍चे आसानी से किसी की बात नहीं सुनते हैं, इसलिए इनके साथ डील करना मुश्किल हो जाता है।

​कन्‍या राशि
इस राशि के लोगों को हमेशा परफेक्‍ट दिखना होता है। हमेशा परफेक्‍ट करने की इच्‍छा, दूसरों के लिए इन्‍हें बहुत क्रिटिकल बना देती है। जब तक इनकी इच्‍छाएं या उम्‍मीदें पूरी नहीं हो जाती, ये अपनी जिद पर अड़े रहते हैं।

​वृश्चिक राशि
वृश्चिक राशि वाले बच्‍चों को अपने रास्‍ते में आने वाला इंसान बिल्‍कुल भी बर्दाश्‍त नहीं होता है। ये बहुत ज्‍यादा उग्र, सोचने वाले और दूसरों से अपनी बात मनवाने वाले होते हैं। आप चाहे कितनी भी कोशिश कर लें कि ये आपकी बात सुन लें, इन्‍हें आपकी बात तभी समझ आएगी जब इन्‍हें उसमें अपना कोई फायदा दिखे। समझौता न करने की इनकी आदत खासतौर पर इनके पेरेंट्स के लिए मुसीबत बन जाती है।

​कुंभ राशि
अगर आप सोच रहे हैं कि कुंभ राशि के बच्‍चे आपके बनाए गए नियमों या सीमाओं का ध्यान रखेंगे, तो समय रहते अपनी इस गलतफहमी को दूर कर लीजिए। अगर इन्‍हें कुछ भी ऐसा लगता है जो इनकी आजादी पर असर डाल रहा हो, तो ये खुद को आपसे दूर करने लगते हैं। इस वजह से पेरेंट्स के लिए इनके साथ डील करना बहुत मुश्किल हो जाता है।

 

Source : Agency