नई दिल्ली

अफगानिस्तान में अपनी सरकार बना चुके तालिबान का एक प्रतिनिधिमंडल अमेरिका के साथ कतर की राजधानी दोहा में मुलाकात करेगा। अमेरिका के विशेष प्रतिनिधि टॉम वेस्ट अगले हफ्ते तालिबान नेताओं के साथ बैठक करेंगे। दोनों देशों के बीच होने वाली मुलाकात में सुरक्षा, मानवीय सहायता समेत कई मुद्दों पर चर्चा होगी। अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने टोलो न्यूज को बताया, "इस बैठक में अफगानिस्तान से जुड़े हमारे राष्ट्रीय हितों पर चर्चा होगी।" उन्होंने कहा, "इसमें आतंकवाद का मुकाबला शामिल है, जिसमें अमेरिकी नागरिकों और अफगानों दोनों की सुरक्षा शामिल है, इसके लिए विशेष प्रतिबद्ध है और इसमें मानवीय सहायता और देश की आर्थिक स्थिति भी शामिल है।"

अमेरिकी दूत टॉम वेस्ट ने इस महीने की शुरुआत में विस्तारित ट्रोइका की एक बैठक में भाग लिया, जिसमें पाकिस्तान, चीन, रूस और संयुक्त राज्य अमेरिका शामिल थे, जिसमें अफगानिस्तान पर चर्चा की गई थी। टोलो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, समूह ने तालिबान के वरिष्ठ प्रतिनिधियों से भी मुलाकात की थी।

अक्टूबर में हुई अमेरिका और तालिबान के बीच होने वाली बातचीत में भी वेस्ट शामिल थे। 31 अगस्त के बाद अफगानिस्तान से अमेरिकी सैन्य ताकतों की वापसी के बाद होने वाली यह पहली बातचीत थी।

तालिबान के प्रवक्ता अब्दुल कहर बलखी ने भी इस मुलाकात को लेकर जानकारी दी। उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि कार्यवाहक विदेश मंत्री आमिर खान मुत्ताकी के नेतृत्व में एक वरिष्ठ प्रतिनिधि मंडल अमेरिका और यूरोपीय संघ के प्रतिनिधियों के साथ मुलाकात करेंगे। जिसमें राजनीतिक मुद्दे, मनी फ्रीजिंग, मानवीय सहायता, शिक्षा वार्ता, स्वास्थ्य देखभाल, सुरक्षा, काबुल में दूतावास खोलने और अन्य मुद्दे भी शामिल हैं. यह मुलाकात दोहा में होगी।

Source : Agency